World

अनुच्छेद 370 के रद्द होने के उपलक्ष्य में…!

अखंड भारत….!!

*न जाने कितने बेघर हुवे*
*न जाने कितने कुर्बान हुवे,*
*सियासतकी गलत चाल से*
*न जाने कितने गुमनाम हुवे,*
*इतिहास के पन्ने बदल गये*
*हर दुश्मन अब दहलायेगा,*
*आजसे मेरा भारत देश*
*अखंड भारत कहलायेगा ।।*

*जो भी अब इस धरती को*
*अपनी आँखें दिखायेगा,*
*मिट्टी में मिल जाएगा वो*
*नक्शेमें नजर न आएगा,*
*देशके लिये सोचने वाला*
*भारतका सपूत कहलायेगा,*
*आजसे मेरा भारत देश*
*अखंड भारत कहलायेगा ।।*

*नहेरुकी गलतीकी सजा*
*की कई पीढ़िया बर्बाद हुवी,*
*देशको छोड़ ग़द्दारोंकी*
*पीढ़िया बस आबाद हुवी,*
*देशका हर युवक भारतमाँको*
*खुनसे अपने नहलायेगा,*
*आजसे मेरा भारत देश*
*अखंड भारत कहलायेगा ।।*

*370 कलम को हटाना*
*ये तो सिर्फ झांकी है,*
*पिओके भारतमे लानेका*
*सपना अभी तक बाकी है,*
*छप्पन इंच की छातीसे अब*
*पाकिस्तान भी दहलायेगा,*
*आजसे मेरा भारत देश*
*अखंड भारत कहलायेगा ।।*

*राममंदिरभी साकार होगा*
*समानताका अधिकार होगा,*
*तुष्टिकरण की राजनितिका*
*अब भारतमे इन्कार होगा,*
*उत्तर,दक्षिण,पूरब,पश्चिम*
*भारतका तिरंगा फहरायेगा*
*आजसे मेरा भारत देश*
*अखंड भारत कहलायेगा ।।*

*शब्द रचना*
*पराग पिंगळे*
*यवतमाळ*

77 Views
कृपया शेअर करा
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close